जल्द पटरी पर दौड़ेगी Vande Metro Train, 70% काम पूरा, जानें क्या है खासियत?

वंदे भारत एक्सप्रेस देश में सेमी-हाई स्पीड ट्रेन के रूप में सफलतापूर्वक चल रही है। इसी बीच एक और अच्छी खबर आयी है। बता दें कि पहली वंदे मेट्रो ट्रेन जल्द ही रेल ट्रैक पर दौड़ती दिखाई देगी।

रेलवे विभाग दो शहरों को जोड़ने के लिए कपूरथला रेल कोच फैक्ट्री (RCF) में वंदे मेट्रो कोच को विकसित कर रहा है। उत्तर रेलवे के वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया कि 16 कोच वाली पहली वंदे मेट्रो ट्रेन मई तक तैयार हो जाएगी।

70% काम हो चुका है पूरा : 16 कोच वाली Vande Metro Train का निर्माण कार्य 70% पूरा हो चुका है, पहला प्रोटोटाइप अप्रैल के अंत तक कारखाने में परीक्षण के लिए तैयार हो जाएगा।

शुरुआत में भारतीय रेलवे नई वंदे मेट्रो ट्रेन को ट्रायल ऑपरेशन में लगाएगी और फिर इसका उद्घाटन किया जाएगा। उत्तर रेलवे के वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया कि इस वित्तीय वर्ष में 9 ट्रेनों का निर्माण किया जाएगा।

इस वंदे मेट्रो को वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन के आधार पर विकसित किया गया है। यह दो प्रमुख शहरों को जोड़ेगा और यात्रियों को 250 किमी की दूरी आराम से तय करने के लिए डिज़ाइन किया गया है।

130 किमी प्रति घंटा होगी Vande Metro Train की रफ्तार: अधिकारियों ने बताया कि पूरी तरह से वातानुकूलित वंदे मेट्रो अधिकतम 130 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलेगी। 16 कोच वाली इस ट्रेन के प्रत्येक कोच में 280 लोग यात्रा कर सकते हैं।