Big Update! Income Tax को लेकर आई बड़ी अपडेट! 15 जून से पहले ना करें यह काम नही तो पढ़ सकते है समस्या मे

By Vijoy Biswas

Published on:

Follow Us
Big Update! Income Tax को लेकर आई बड़ी अपडेट! 15 जून से पहले ना करें यह काम नही तो पढ़ सकते है समस्या मे

Income Tax News: आयकर रिटर्न की प्रक्रिया 2024 के लिए शुरू हो चुका है। जिसमे की ITR दाखिल करने की तारीख रखी गई है 31 जुलाई। जितने भी वेतनभोगी करदाता है उनके लिए बड़ा अपडेट सामने आया है। अगर आप हर महीने सैलरी लेते हैं तो आपको आईटीआर दाखिल करने की सलाह दी जाती है 15 जून के बाद। अगर 15 जून के बाद आप दाखिल करते हैं तो आपको कई तरह के फायदे मिल सकते हैं।

ITR 15 जून के बाद क्यों भरे?

असल में आयकर विभाग के ऑफिसियल वेबसाइट पर 15 जून तक फॉर्म 26AS यानी वार्षिक सूचना विवरण उपलब्ध होता है और इसमें यह अपडेट पूरी तरह कंप्लीट रहता है। आमतौर पर देखा जाए तो AIS और फॉर्म 26AS का डाटा 31 में तक अपडेट हो जाता है हालांकि इसके कुछ जानकारी बहुत पहले ही उपलब्ध कराया जाता है। इनकम टैक्स भरने के लिए इन सभी डाटा की बहुत ही ज्यादा जरूरत होती है क्योंकि सही और सटीक जानकारी होने से ही ITR भरना आसान हो जाता है। इतने मे उन सभी वेतनभोगी लोगों को 15 दिन के अंदर टीडीएस सर्टिफिकेट भी मिल जाता है।

अपडेट ASI क्यों जरूरी है?

जो वार्षिक सूचना विवरण अपडेट किया जाता है उसको बहुत चीजों के ऊपर ध्यान रखकर अपडेट किया जाता है। जैसे की बैंकों और वित्तीय समस्थानों के क्रेडिट कार्ड बिल, जमा ब्याज, बचत खाता, शेयर, म्युचुअल फंड, पीएफ और अन्य लेनदेन का डाटा देख के बनाया जाता है। यह सारा डाटा मिलने के बाद ही करदाताओं के लिए वार्षिक सूचना विवरण सटीक और सही तरह से अपडेट किया जाता है। और यह सभी जानकारी 15 जून के बाद ही मिलता है इसीलिए अगर आप यह सभी जानकारी लेने के बाद ही अपना ITR की प्रक्रिया कंप्लीट करेंगे तो आपको आसानी होगी।

भरना पड़ सकता है भारी जुर्माना

इससे पहले भी यह बताया जा चुका है कि अधूरी जानकारी के साथ अगर आईटीआर दाखिल करते हैं तो आपको भारी नुकसान का सामना करना पड़ सकता है। अगर कोई भी टैक्स दाता आयकर रिटर्न दाखिल करते समय फॉर्म में गलत जानकारी देता है तो उसे भारी जुर्माना देना पड़ सकता है। इसीलिए वेतन भोगी लोगों को इस तारीख तक इंतजार की सलाह दिया जाता है।

Leave a Comment